कोरोना: चिकित्सा विभाग की लापरवाही,पड़ सकती हैं भारी

कोरोना जैसी महामारी को लेकर जहां एक तरफ प्रशासन गंभीर है, वहीं दूसरी तरफ जालोर चिकित्सा महकमा पूरी तरह लापरवाह बना हुआ है।

बिना सैम्पल लिए ही पॉजिटिव को नेगेटिव रिपोर्ट थमा रहा हैं।

30 जून के लिए सैम्पल की जांच 14 जुलाई को आ रही है।

पीएमओ डॉ. शर्मा जिम्मेदारी से मुंह मोड़ कर बेतुके बयान दे रहे हैं कि प्रशासन जाने, उन्हें कुछ नहीं पता।

कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिसमें घोर लापरवाही बरती जा रही है, जिसका खामियाजा जालोर को भुगतना पड़ रहा है।